Janhindi - Latest Hindi News Khabare Samachar

हम सिर्फ ट्रॉफी बदल रहे है :- एमएस धोनी

IPL-12 का फाइनल मुकाबला हैदराबाद के राजीव गांधी स्टेडियम में रविवार को मुम्बई इंडियन्स और चेन्नई सुपरकिंग्स के बीच में खेला गया और इस रोमांचक मुकाबले में मुंबई ने एक रन से जीत दर्ज की।

आपको बता दें कि मैच को हारने के बाद धोनी एक ऐसा स्टेटमेंट दिया, जिसने सभी का दिल जीत लिया। धोनी ने कहा :- हम सिर्फ ट्रॉफी बदल रहे है।

लेकिन इस मैच कुछ ऐसा हुआ जिसने चेन्नई को ये मैच हवा दिया वो टर्निंग पॉइंट था महेंद्र सिंह धोनी का रन आउट होना। धोनी का विकेट गिरते ही मुंबई आधा मैच वहीं जीत चुकी थी। आपको बता दें कि धोनी के आउट होने के फैसले पर लगातार सवाल उठ रहे है। आइये आपको भी दिखते है :-

धोनी के रनआउट के फैसले पर लोग सवाल उठा रहे हैं

धोनी के रन आउट होने के फैसले पर सोशल मीडिया पर लोग सवाल उठा रहे हैं। जब धोनी बल्लेबाजी करने आए उस दौरान चेन्नई का स्कोर 73/3 था। पूरी टीम की जिम्मेदारी उनके कंधों पर थी। मैच के 13वें ओवर में गेंदबाजी करने हार्दिक पांड्या आए।

ओवर की चौथी गेंद पर शेन वॉटसन ने शॉर्ट स्क्वायर लेग की दिशा में शॉट खेला और रन लेने के लिए दौड़ पड़े। लसिथ मलिंगा ने गलत थ्रो किया। धोनी ने ओवरथ्रो पर रन लेने की कोशिश की, लेकिन ईशान किशन के सीधे थ्रो वे रन आउट हो गए।

नाइजल लॉन्ग के इस फैसले से कई क्रिकेट फैन्स निराश हैंमैदानी अंपायर ने थर्ड अंपायर से राय मांगी। टीवी अंपायर ने कई एंग्लस से रीप्ले देखा। आखिर में कई रीप्ले देखने के बाद टीवी अंपायर नाइजल लॉन्ग को धोनी को रन आउट देने के लिए कहा।

हालांकि, क्रिकेट के नियमों के मुताबिक, संदेह की स्थिति में अधिकतर फैसले बल्‍लेबाज के पक्ष में जाते हैं, लेकिन आंपायर का यह फैसला धोनी के पक्ष में नहीं, बल्कि विरोधी टीम के हित में गया। नाइजल लॉन्ग के इस फैसले से कई क्रिकेट और धोनी के फैन्स निराश हैं। सोशल मीडिया पर लोग धोनी के रन आउट होने पर बहस छिड़ी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *