Janhindi - Latest Hindi News Khabare Samachar

साध्वी को नहीं पता कि उन पर कौन सा मुक़दमा चल रहा है, प्रज्ञा से अच्छा झूठ तो दूध पीते बच्चे बोलते हैं !!

साध्वी प्रज्ञा ठाकुर इस बार संसद में पहुँचने वाली देश की सबसे विवादित सांसद। साध्वी प्रज्ञा ठाकुर पिछले 10 सालों से विवाद में हैं और इसकी शुरुआत तब हुई जब उनपर मालेगांव ब्लास्ट का आरोप लगा। अपनी ज़िंदगी का एक लम्बा समय जेल में बिताने वाली साध्वी प्रज्ञा स्वास्थ्य कारणों से ज़मानत लेकर जेल से बाहर आयी हुई हैं और भाजपा से टिकट जीतकर संसद भी पहुँच गयी।

Image result for sadhvi pragya

लेकिन कोर्ट की नज़रों में वो अब भी एक सांसद होने से पहले मालेगांव ब्लास्ट में अभियुक्त हैं तब ही तो मुम्बई की विशेष अदालत ने कहा था कि उन्हें हर हफ़्ते कोर्ट में पेशी देनी होगी। जिस पर साध्वी प्रज्ञा ने कहा वो संसदीय कार्य में बिज़ी हैं और नहीं आ सकती लेकिन कोर्ट ने उन्हें किसी तरह की रियायत नहीं दी। जिसके बाद बृहस्पतिवार को अपनी सुनवाई के दिन साध्वी प्रज्ञा ने कहा कि उनकी तबियत अचानक खराब हो गयी है और उन्हें अस्पताल में भर्ती होना पड़ा है जिसके कारण वो पेशी में नहीं आ सकती हैं।

Image result for sadhvi pragya

लेकिन तब भी साध्वी प्रज्ञा की तबियत इतनी ख़राब नहीं थी कि वो अपनी पार्टी के कार्यक्रम में न जा पाएं और वहां जाकर भाषण न दे पाएं। और जब ये बात सार्वजनिक हो गयी तो साध्वी को लगा कि अब कोई पैंतरेबाज़ी काम नहीं आएगी इसीलिए वो शुक्रवार को कोर्ट में पहुँच गयीं। लेकिन यहां भी उनका ड्रामा अलग ही लेवल पर रहा।

Image result for sadhvi pragya in court

सुनवाई के दौरान जब कोर्ट में जज ने साध्वी सहित उपस्थित सभी आरोपियों से सवाल पूछे, जज का पहला सवाल था कि ”क्या आप बता सकते हैं अब तक कितने गवाहों की गवाही हुई है?” इस पर साध्वी प्रज्ञा ने जवाब दिया कि ”मुझे नहीं पता” .जज ने दूसरा सवाल पूछा, ”अब तक गवाहों के बयान है कि 29 सितंबर 2008 को मालेगांव में धमाका हुआ था, मैं ये नही पूछ रहा हूं कि किसने किया। मैं ये सिर्फ ये जानना चाहता हूं आप को क्या कहना है?” इस पर प्रज्ञा साध्वी ने फिर जवाब दिया कि ”मुझे नहीं पता”

अब इतनी कॉमेडी साध्वी प्रज्ञा ने संसद पहुँचने से पहले ही कर दी है पता नहीं संसद के अंदर ये क्या-क्या करेंगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *